APPRENTICE

 आईटीआई और (Apprentice jobs in railway) अप्रेंटिस के अभ्‍यर्थियों के लिए खुशखबरी, रेलवे ने बदला नियम…

 आईटीआई और (Apprentice jobs in railway) अप्रेंटिस के अभ्‍यर्थियों के लिए खुशखबरी, रेलवे ने बदला नियम… रेलवे में ग्रेड पे 1800 पर सिविल, इंजीनियरिंग, मैकेनिकल, इलेक्‍ट्रीकल और सिग्‍नल व टेलीकॉम अनुभाग के पदों के लिए हाईस्‍कूल के साथ आईटीआई या फ‍िर अप्रेंटिस प्रमाणपत्र होना जरूरी

ON LINE DESK, BHOPAL

Apprentice jobs in railway:अब दसवीं पास और अप्रेंटिस किए हुए अभ्यर्थियों के पास रेलवे में नौकरी करने का चांस ज्‍यादा है. अगर आप उच्‍च शिक्षित है, तो हो सकता है रेलवे आपको नौकरी के लिए योग्य ही ना माने.  रेलवे ऐसा सभी पदों के लिए नहीं कर रहा है, बल्कि गैंगमेन के पदों लिए कर रहा है. दरअसल ऐसा देखने में आ रहा है कि 1800 ग्रेड पे के गैंगमेन के पदों के लिए दसवीं पास की जगह बीटेक, एमटेक, एमबीए सहित कई तरह की उच्‍च व्‍यवसायिक शिक्षा वाले अभ्‍यर्थी आवेदन कर रहे है.  उच्‍च शिक्षित होने के कारण उनका चयन भी रेलवे में आसानी से हो रहा था, लेकिन जब वह गैंगमेन खलासी के पदों पर नियुक्‍त हुए तो उन्‍होंने काम पर आना ही बंद कर दिया.  कई उच्‍च शिक्षित कर्मचारियों ने भारी औजार लेकर काम पर जाने से ही इंकार कर दिया. ऐसे में रेलवे के सामने अजीब स्थिति उत्‍पन्‍न हो गई. भारतीय रेलवें में गैंगमेन के पदों पर हजारों की संख्‍या में उ‍च्‍च शिक्षित युवा चयनित हुए है, लेकिन काम नहीं कर रहे है.

Apprentice jobs in railway- पूराने कर्मचारियों पर बढ़ा दबाव

नए और युवा कर्मचारियों के द्वारा गैंगमेन का काम नहीं करने को लेकर अपना रूख जाहिर किया तो पूराने कर्मचारियों पर काम का दबाव बढ़ गया.  जबकि कई कर्मचारी पचास साल से अधिक है, फ‍िर भी उन पर काम का दबाव अधिक है. गैंगमेन पर चयनित उच्‍च शिक्षित युवा चपरासी का काम कर सकते है, लेकिन फील्‍ड में जाने को तैयार नहीं है.

रेलवे ने बदला नियम, फायदा होग दसवीं और अप्रेंटिस पास (Apprentice jobs in railway) अभ्‍यर्थियों को

रेलवे बोर्ड के निदेशक अवस्‍थापना नीरज कुमार ने अपने आदेश में कहा है कि रेलवे के सिविल इंजीनियरिंग, मैकेनिकल, इलेक्‍ट्रीकल और सिग्‍नल व टेलीकॉम अनुभाग में 1800 ग्रेड पे के पदों के लिए दो तरह की शैक्षिक योग्‍यताएं होगी. एक या तो अभ्‍यर्थी की शैक्षिक योग्‍यता नेशनल अप्रेंटिस सर्टिफ‍िकेट के साथ हाईस्‍कूल पास होगी. जबकि अप्रेंटिसशिप न होने पर उनको हाईस्‍कूल के साथ आईटीआई पास होना अनिवार्य होगा. इस नियम के आने से बीटेक, बीई, एमबीए और अन्‍य उच्‍च डिग्रीधारी गैंगमेन की भर्ती में आवेदन ही नहीं कर सकेंगे…

इसलिए बाहर हुए बीई, बीटेक, एमबीए धारी

पांच किलो का हथौड़ा लेकर पटरियों की पेट्रोलिंग और मरम्‍मत करना मेहनतकश काम है. बीई, बीटेक, एमबीए की डिग्री वाले युवा काम से परहेज करते थे. इस काम को लेकर वह शर्म महसूस करते थे. उनका तर्क होता था कि वह इतनी पढ़ाई किए तो उनको उनकी शिक्षा के मुताबिक काम दिया जाये.जबकि रेलवे में उनसे दूसरा काम नहीं लिया जा सकता. 

Apprentice jobs in railway- दसवीं पास या आईटीआई डिग्री धारी युवा तैयार है मेहनत के लिये

रेलवे के अफसर भी जानते है कि न्‍यूनतम दसवीं पास और आईटीआई की डिग्री, अप्रेंटिस पास युवा मेहनत के लिए तैयार होते है. उनको अपनी शिक्षा पर किसी तरह का गुमान नहीं होता है.  वह चाहते है कि उनको गैंगमेन के पद पर नौकरी मिल जाये. लेकिन शिक्षा की कमी के कारण वह एमबीए, बीई, बीटेक डिग्रीधारी युवाओं से प्रतियोगिता नहीं कर पाते थे.

 

About the author

Bhaskar Jobs

Leave a Comment