MADHYA PRADESH PEB

ग्रुप -02 (सब ग्रुप -04 भर्ती) सहायक संप्ररीक्षक, कनिष्‍ठ सहायक डेटा एंट्री ऑपरेटर के प्रश्‍नपत्र का रिव्‍यू…

ग्रुप -02 (सब ग्रुप -04 भर्ती) सहायक संप्ररीक्षक, कनिष्‍ठ सहायक डेटा एंट्री ऑपरेटर के प्रश्‍नपत्र का रिव्‍यू…

-इस रिव्‍यू को देखकर अपनी तैयारी को अंतिम दिनों में कर सकते है चेक, प्रश्‍नपत्र मिक्‍स आ रहा है, थोड़ा कठिन, थोड़ा सरल

ONLINE DESK, BHOPAL 

 कोविड-19 के बाद जनवरी माह में हो रही MPPEB  ग्रुप -02 (सब ग्रुप -04 भर्ती) की परीक्षा को लेकर छात्र अजीब उलझन में है. जिनका पेपर हो गया है, वह अपने मार्कस के आधार पर सिलेक्‍शन होने या नहीं होने को लेकर परेशान है.

कोई छात्र कह रहा है कि 170 मार्कस आने पर चयन लगभग पक्‍का है, तो वहीं कुछ छात्रों का कहना है कि पोस्‍ट कम होने के कारण कट ऑफ ज्‍यादा जा सकता है. इसलिए सिलेक्‍शन पक्‍का नहीं लग रहा है. जो छात्र परीक्षा दे चुके है, उनका भाग्‍य तय हो गया है.

वहीं जिनको अभी ग्रुप-02 की परीक्षा देना है, उनके पास अब भी चांस है. आज हम ग्रुप -02 (सब ग्रुप -04 भर्ती) सहायक संप्ररीक्षक, कनिष्‍ठ सहायक डेटा एंट्री ऑपरेटर के लिए हुए प्रश्‍नपत्र का रिव्‍यू करने जा रहे है.

इसमें बतायेंगे कि किस विषय को अच्‍छे से तैयार करना है, और किस विषय पर कम ध्‍यान देना है. रिव्‍यू में प्रश्‍नपत्र के पैटर्न के बारे में चर्चा करेंगे, साथ ही कुछ खास विषयों के बारे में भी बतायेंगे.

ग्रुप-02 परीक्षा में दो पार्ट में प्रश्‍न पूछे जा रहे है. प्रथम पार्ट 100 अंक और द्वितीय पार्ट 100 प्रश्‍नों को होगा. ग्रुप-20 परीक्षा का रिव्‍यू छात्रों से पूछकर किया गया है.

एमपी पीईबी ग्रुप -02 की परीक्षा में  इंजीनियरिंग एवं एमबीए को स्‍टूडेंट को फायदा मिल सकता है. मैथ और मैनेजमेंट के अधिक से अधिक सवाल पूछे जा रहे है. यह बिल्‍कुल सही हो, इसका दावा नहीं करते है. यह अनुमान है…

एमपी जीके-मप्र सामान्‍य अध्‍यन- ग्रुप -02 (सब ग्रुप -04 भर्ती) –MPPEB group-02 (sub group-04 recruitment) 

मप्र के सामान्‍य अध्‍यन को एक बार फ‍िर से पढ़ लो. सामान्‍य ज्ञान के 15 से 18 प्रश्‍न अलग अलग तरीके से पूछे जा रहे है. एमपी जीके में कोने से शहर में कोन सा मेला होता है. संस्‍थान के मुख्‍यालय और मप्र के न्‍यायाधीश को लेकर प्रश्‍न पूछे जा रहे है. 

कंप्‍यूटर एवं तकनीकी प्रश्‍न- ग्रुप -02 (सब ग्रुप -04 भर्ती) –MPPEB group-02 (sub group-04 recruitment) 

ग्रुप-02 की परीक्षा में कंप्‍यूटर का पार्ट बहुत ही अहम है. कंप्‍यूटर के भी दस से 12 प्रश्‍न या उससे अधिक पूछे जा रहे है. कंप्‍यूटर में एमएस वर्ड, एमएस एक्‍सेल, पॉवर पाइंट से संबंधित प्रश्‍न पूछे जा रहे है.

कंप्‍यूटर में एकाध प्रश्‍न यूआरएल या सर्वर को लेकर पूछा जा रहा है. हालांकि कंप्‍यूटर के प्रश्‍न आसान आ रहे है, इसमें स्‍कोर कर सकते है.

मैनेजमेंट- सामान्‍य प्रबंधन- ग्रुप -02 (सब ग्रुप -04 भर्ती) – MPPEB group-02 (sub group-04 recruitment) 

ग्रुप -02 में मैनेजमेंट विषय पर ज्‍यादा फोकस है. इस विषय से कम से कम 20 प्रश्‍न अलग अलग तरीकों से पूछे जा रहे है. मैनेजमेंट के प्रश्‍नों की तैयारी के लिए ज्‍यादा डीप में जाने की आवश्‍यकता नहीं है.

मैनेजमेंट की साधारण समझ वाले प्रश्‍न ही पूछे जा रहे है. उसको पूछने के तरीकों में थोड़ा बदलाव किया गया है. मैनेजमेंट के प्रश्‍नों में कंपनी के संचालन, बोर्ड ऑफ डायरेक्‍टर, प्रोडक्‍शन, सेवा से संबंधित प्रश्‍नों को तैयार किया जा सकता है.

 

मैथेमेटिक्‍स-गणित के प्रश्‍न- MPPEB group-02 (sub group-04 recruitment) 

इस परीक्षा में अन्‍य विषयों में वो छात्र आगे जा रहे है, जिनकी मैथ अच्‍छी है. जो कम समय में मैथ के प्रश्‍नों को हल कर रहे है.

मैथ में तिर्यक उंचाई, दिशा, एलसीएम-एचसीएफ, चक्रवृद्वि ब्‍याज, अंश-हर, अनुपात, शंकु के सवाल पूछे जा रहे है. मैथ्‍स में रीजनिंग के सवाल कम पूछे जा रहे है. अंक गणित, बीज गणित, ट्रिग्‍नोमेट्री के सवाल पर फोकस कर सकते है.

 

विज्ञान- साइंस के प्रश्‍न –MPPEB group-02 (sub group-04 recruitment) 

विज्ञान के सवालों का जवाब तो खुदा ही दे सकता है. पीईबी जिस तरह से विज्ञान के सवाल पूछ रही है, लगता वह खुद ही कंफ्यूज है. साधारण विज्ञान के प्रश्‍नों को पढ़ ले.

इसको लेकर तनाव नहीं ले. विज्ञान के सवालों का पोर्शन भी ज्‍यादा है. विज्ञान के सवालों में कामनसेंस वाले प्रश्‍न भी पूछे जा रहे है. जिनकी साइंस की तैयारी अच्‍छी है, उनको थोड़ा फायदा मिल सकता है.

मिक्‍स प्रश्‍न पूछे जा रहे है… MPPEB group-02 (sub group-04 recruitment) 

 

ग्रुप-02 परीक्षा में जो प्रश्‍नपत्र सेट किया गया है, उसमें टाइमिंग की अहमियत बहुत ही बढ़ गई है. पूर्व में सभी विषयों को सीरियल से एक पार्ट बनाकर पूछा जाता था. अभी इस परीक्षा में कंप्‍यूटर पर एक प्रश्‍न एलसीएम को तो दूसर प्रश्‍न मप्र में मेले पर प्रश्‍न सामने आ जायेगा.

इसलिए फोकस बनाये रखना होगा. छात्रों को परीक्षा देते समय विकल्‍प को गौर से पढ़ना होगा. विकल्‍पों को ठीक तरह से समझ जायेंगे, तो कई प्रश्‍नों के उत्‍तर विकल्‍प मे ही मिल जायेंगे.  

 

 

About the author

Bhaskar Jobs

1 Comment

Leave a Comment