Industry Job & Carrier

भारत की बढ़ती बेरोजगारी दर ने युवाओं को डाला टेंशन में 

सचिन बाविस्कर 

भारत में बढ़ती (Unemployment) बेरोजगारी दर ने निजी क्षेत्र में नौकरी करने वालों की टेंशन बढ़ा दी है। ये तब हुआ है, जब पूरे भारत को कोरोना वायरस के चलते लॉकडाउन किया गया है। ऐसे समय में सेंटर फॉर मॉनिटरिंग इंडियन इकॉनमी (CMIE) ने देश के युवा बेरोजगारों की दशा बताते हुए एक सिलसिलेवार रिपोर्ट जारी की है। इससे (सीएमआईई) ने बताया है कि 2020 अप्रैल माह में बेरोजगारी दर लगभग 10.4 प्रतिशत रही है।

रिसर्च में खुलासाः पांच सालों में गई 3.64 करोड़ नौकरियां

शहरी क्षेत्रों में (Unemployment) बेरोजगारी दर 11.6 प्रतिशत व ग्रामीण क्षेत्रों में ये दर 9.9 प्रतिशत दर्ज की गई। प्रमुख बात यह है कि चीन के वुहान शहर कोरोना वायरस के फैलने के बाद पूरी दुनिया में तबाही की स्थिति बन गई। दुनियाभर के शेयर बाजारों ने गोता खाना शुरू कर दिया है। मजबूत आर्थिक देशों में मंदी की सूचना आ रही है। कोरोना वायरस का व्यापक असर भारत पर भी पड़ रहा है।

भारत में उद्योग धंधे पूरी तरह से ठप है। असंगठित क्षेत्र में फैक्ट्री में काम करने वालों लाखों मजदूरों की नौकरी जा चुकी है। इससे बड़ी तादाद में युवा बेरोजगार है। सीएमआईई (CMIE) की रिपोर्ट में यही बताया गया है। जानकारी के मुताबिक बेरोजगार दर में नोटबंदी के बाद लगातार बढ़ोतरी हुई है। जुलाई 2017 से लेकर 2018 के दौरान एक साल में बेरोजगारी दर 6.1 फीसदी बढ़ी थी। 1972- 73 के बाद यह सबसे ज्यादा बेरोजगारी दर्ज की गई थी।

https://www.cmie.com/

वर्ष 2020 फरवरी में (Unemployment) बेरोजगारी दर 7.2 दर्ज की गई थी। एक तथ्य यह भी यह है कि भारत की जनसँख्या 131 करोड़ से ज्यादा हो चुकी है, जबकि काम करने वालों श्रमिकों की नौकरी या काम जाने दर पचास फीसदी से ज्यादा हो गई है। इस तथ्य को ध्यान में रखकर केंद्र सरकार को निति बनाना चाहिए।

त्रिपुरा में सबसे ज्यादा (Unemployment) बेरोजगारी दर 

सीएमआईई  (CMIE)  की रिपोर्ट के अनुसार त्रिपुरा में सबसे अधिक लोगों की नौकरियां गई है। त्रिपुरा में बेरोजगारी दर 25.8  प्रतिशत, जम्मु – कश्मीर में 22.2 प्रतिशत बेरोजगारी दर्ज की गई।

राज्यवार स्थिति

राज्य                     मार्च माह में बेरोजगारी दर

आंध्र प्रदेश                5.7 प्रतिशत

असम                     4 .8 प्रतिशत

बिहार                      15. 4 प्रतिशत

छत्तीसगढ़               7.7 प्रतिशत  

गोवा                        5.2 प्रतिशत

गुजरात                    6 .7 प्रतिशत    

हरियाणा                  25.1 प्रतिशत

हिमाचल                  18 .8 प्रतिशत

जम्मु – कश्मीर          15.5  प्रतिशत

झारखंड                     8.2 प्रतिशत

कर्नाटक                     3.5 प्रतिशत

केरला                         9.0 प्रतिशत

मध्य प्रदेश                 2 .2 प्रतिशत

महाराष्ट्र                    5.8 प्रतिशत

मेघालय                     1.6 प्रतिशत

ओडिसा                      13.1 प्रतिशत

पुडुचेरी                       1.2 प्रतिशत

पंजाब                          10.3 प्रतिशत
राजस्थान                    11.8 प्रतिशत

 सिक्किम                      23.6 प्रतिशत

तमिलनाडु                     6.3 प्रतिशत

तेलंगाना                       5.8 प्रतिशत

त्रिपुरा                           29.9 प्रतिशत

उत्तर प्रदेश                    10.1 प्रतिशत

पश्चिम बंगाल                6.9 प्रतिशत

नोट – Not everyone who is jobless is unemployment 

                                                                                                          (साभार नेट)

कैसा लगा आर्टिकल – दोस्तों आप सभी ने बेरोजगारी दर पर मेरे आर्टिकल को पढ़ा है। बेरोजगारी दर से सम्बंधित दी गई जानकारी आपको कैसी लगी। कमेंट्स में जाकर जरूर बताये। 

About the author

Bhaskar Jobs

Leave a Comment