Employment News MADHYA PRADESH

1 साल में 12 लाख युवाओं को रोजगार देने का टार्गेट रखा मप्र के मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने… 

1 साल में 12 लाख युवाओं को रोजगार देने का टार्गेट रखा मप्र के मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने…

-प्रदेश में लघु, कुटीर और मध्‍यम उद्योगों का जाल बिछाना सपना- शिवराज सिंह चौहान , मप्र में 1891 छोटी इंडस्‍ट्रीज का वर्चुअल शुभारंभ

online desk, bhopal

मप्र के मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने खुद के लिए टारगेट सेट किया है. उन्होंने प्रदेश के युवाओं को एक साल में 12 लाख रोजगार देने का संकल्प लिया है. इस हिसाब से एक महिने में एक लाख युवाओं को रोजगार दिया जायेगा. मप्र में एक साथ 1891 छोटे उद्योगों के वर्चुअल शुभारंभ अवसर पर मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि हम रोजगार उपलब्ध कराने की दिशा में लगातार सक्रिय है. मप्र शासन राज्‍य के उधमियों को सपोर्ट करने के लिये हर दम उपलब्‍ध है. उधमियों की मदद के लिए  ‘स्टार्ट यूअर बिजनेस इन थर्टी डेज’ योजना चलाई जा रही है. योजना का उद्देश्य यही है कि प्रदेश में अपना उद्योग आरंभ करने वाले किसी भी व्यक्ति को कोई भी परेशानी न आए। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना के कठिन काल में आत्मनिर्भर भारत के निर्माण का मंत्र दिया। इसके परिपालन में आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश के निर्माण के लिए विकसित रोडमैप में अर्थव्यवस्था और रोजगार प्रमुख आधार स्तंभ हैं। प्रदेश में अधोसंरचना निर्माण, कृषि और खाद्य प्रसंस्करण में उद्यमशीलता और रोजगार के अवसर सृजित करने की अपार संभावनाएं हैं। कोरोना के कठिन काल में प्रदेश के पथ विक्रेताओं और स्व-सहायता समूहों को राज्य शासन द्वारा हरसंभव सहयोग प्रदान किया गया है।

प्रदेश के युवा नौकरी मांगने वाले नहीं रोजगार देने वाले बने

चौहान ने कहा कि युवाओं के लिए स्व-रोजगार के अवसरों को बढ़ाने के उद्देश्य से पुरानी योजनाओं की रीपैकेजिंग कर नई मुख्यमंत्री उद्यम क्रांति योजना आरंभ करने का निर्णय लिया गया है। प्रदेश के विकास के लिए जितना योगदान बड़े उद्योगों का है उतनी ही महत्वपूर्ण भूमिका एम.एस.एम.ई की है। इसकी महत्ता को स्वीकार करते हुए ही प्रदेश में पृथक एम.एस.एम.ई. विभाग बनाया गया। मेरा सपना है कि प्रदेश के युवा नौकरी मांगने वाले नहीं रोजगार देने वाले बने। यह सपना लघु, कुटीर और मध्यम उद्योगों से ही साकार हो सकता है.

50 हजार से अधिक लोगों को मिलेगा रोजगार

मुख्यमंत्री चौहान ने इकाइयों का वर्चुअल शुभारंभ करते हुए कहा  कि आज का दिन ऐतिहासिक है। प्रदेश में 1891 इकाइयाँ वर्चुअली आरंभ की जा रही हैं। इनमें 4227 करोड़ का निवेश हुआ है। यह इकाइयाँ 50 हजार से अधिक लोगों को रोजगार उपलब्ध कराएगी। प्रदेश में 572 इकाइयाँ मार्च 2021 तक स्थापित हो चुकी हैं। अगले तीन माह में 296 और अगले छह माह में एक हजार 23 इकाइयाँ स्थापित होंगी। वहीं एमएसएमई मंत्री ओमप्रकाश सकलेचा ने कहा कि उद्योग क्षेत्र में बहुत तेजी से तकनीकी बदलाव आ रहा है। वैश्विक स्तर की मांग के अनुसार प्रदेश की औद्योगिक इकाइयों को कदम से कदम मिलाकर चलने में सक्षम बनाने के लिए आवश्यक व्यवस्थाएँ की जा रही हैं।

About the author

Bhaskar Jobs

Leave a Comment